verified Article उत्तर प्रदेश

Vews उत्तर प्रदेश समाचार हिन्दी: कमजोरियां और उपहास

एक चूहा एक कसाई के घर में बिल बना कर रहता था...एक दिन चूहे ने देखा कि उस कसाई और उसकी पत्नी एक थैले से कुछ निकाल रहे हैं... चूहे ने सोचा कि शायद कुछ खाने का सामान है

@KawalHasan •  • 
 |  0 |  Last seen: 2 months ago
कमजोरियां और उपहास

Key Moments

उत्सुकतावश देखने पर उसने पाया कि वो एक चूहेदानी थी ख़तरा भाँपने पर उस ने पिछवाड़े में जा कर कबूतर को यह बात बताई कि घर में चूहेदानी आ गयी है...कबूतर ने मज़ाक उड़ाते हुए कहा कि मुझे क्या..?

मुझे कौनसा उस में फँसना है...?

निराश चूहा ये बात मुर्गे को बताने गया.. मुर्गे ने खिल्ली उड़ाते हुए कहा : जा भाई ये मेरी समस्या नहीं है..हताश चूहे ने बाड़े में जा कर बकरे को ये बात बताई… और बकरा हँसते हँसते लोटपोट होने लगा..उसी रात चूहेदानी में खटाक की आवाज़ हुई जिस में एक ज़हरीला साँप फँस गया था...अँधेरे में उसकी पूँछ को चूहा समझ कर उस कसाई की पत्नी ने उसे निकाला और साँप ने उसे डस लिया तबीयत बिगड़ने पर उस व्यक्ति ने हकीम को बुलवाया...

हकीम ने उसे कबूतर का सूप पिलाने की सलाह दी कबूतर अब पतीले में उबल रहा था..खबर सुनकर उस कसाई के कई रिश्तेदार मिलने आ पहुँचे जिनके भोजन प्रबंध हेतु अगले दिन उसी मुर्गे को काटा गया कुछ दिनों बाद उस कसाई की पत्नी सही हो गयी...तो खुशी में उस व्यक्ति ने कुछ अपने शुभचिंतकों के लिए एक दावत रखी तो बकरे को काटा गया

चूहा अब दूर जा चुका था...बहुत दूर...अगली बार कोई आपको अपनी समस्या बतायेे और आप को लगे कि ये मेरी समस्या नहीं है...तो रुकिए और दुबारा सोचिये..समाज का एक अंग.. एक तबका.. एक नागरिक खतरे में है तो पूरा समाज व पूरा देश खतरे में है...अपने-अपने दायरे से बाहर निकलिये.. स्वयं तक सीमित मत रहिये। सामाजिक बनिये ...!!

अस्वीकरण

यह पोस्ट स्वयं प्रकाशित किया गया है. Vews.in लेखक द्वारा व्यक्त किए गए विचारों के लिए न तो समर्थन करता है और न ही जिम्मेदार है.. Profile .


हमसे अन्य सोशल मीडिया साइट पर जुड़े