verified Article मुजफ्फरनगर

Vews मुजफ्फरनगर समाचार हिन्दी: मुज़फ्फरनगर में सरकारी कागजों में जिंदा महिला को दर्शाया मृत

@KawalHasan •  • 
0 |  Last seen: 2 months ago
मुज़फ्फरनगर में सरकारी कागजों में जिंदा महिला को दर्शाया मृत

Key Moments

खतौली। सरकारी कागजों में मृत घोषित कर दी गयी एक बेसहारा, बेघर, नि:सन्तान वयोवृद्ध विधवा महिला ने जिलाधिकारी चन्द्र भूषण सिंह को सरकारी सिस्टम की लापरवाही से अवगत कराकर अपनी पेंशन बहाल कराये जाने की गुहार लगायी है।

 कस्बे के मोहल्ला बालकराम गली दरबार निवासी विधवा महिला बून्दी पत्नी स्व. हबीब अंसारी को वृद्धावस्था पेंशन जून 2020 से नही मिल पा रही है। वयोवृद्ध विधवा महिला रोज़ रोज़ तहसील व बैंक के चक्कर काटकर थक चुकी है। रोज़ चक्कर काटने से आजिज़ आये बैंक मैनेजर ने बीते दिनों वृद्ध महिला बून्दी को अवगत कराया कि तहसील वालों ने उसे सरकारी कागजों में मार दिया है, जिसके चलते उसकी पेंशन आनी बन्द हो गयी है।  इसके बाद वृद्ध महिला बून्दी ने एसडीएम को प्रार्थना पत्र देकर अपने आपको सरकारी कागजों में जि़न्दा करने की गुहार लगाकर तहसील के चक्कर काटने शुरू कर दिये, लेकिन जि़न्दा महिला को कागजों में जि़न्दा दर्शाने को सरकारी सिस्टम टस से मस नही हुआ। बीते दिनों माँ समान वयोवृद्ध महिला को तहसील परिसर की एक बेंच पर उदास परेशान बैठा देखकर रतनपुरी निवासी समाजसेवी कप्तान सिंह के सहानुभूति प्रकट करने पर विधवा महिला बून्दी ने अपनी आपबीती से उन्हें अवगत कराया। कप्तान सिंह द्वारा तहसील अधिकारियों की फज़ीहत करने के बावजूद वयोवृद्ध महिला बून्दी का सरकारी कागजों में जि़न्दा होना महाभारत साबित हो रहा है। इससे आक्रोशित कप्तान सिंह ने जि़ला समाज कल्याण अधिकारी को पूरे मामले से अवगत कराकर वयोवृद्ध महिला बून्दी की पेंशन बहाल कराने की मांग की। आरोप है कि   समाज कल्याण विभाग द्वारा तहसीलदार खतौली से इस सम्बंध में जांचोपरांत रिपोर्ट देने के निर्देश देने के बावजूद तहसील स्तर से आख्या प्रेषित करने में आनाकानी की जा रही है। इससे आक्रोशित विधवा महिला बून्दी ने मंगलवार को जिलाधिकारी चन्द्र भूषण सिंह को प्रार्थना पत्र देकर पेंशन बहाल कराये जाने की मांग की है।  पूर्व में कानूनगो बबलू कुमार की जांच पर हल्का लेखपाल संजय सिंह के आख्या प्रस्तुत करने पर निवर्तमान तहसीलदार ने बून्दी की मौत होने की रिपोर्ट समाज कल्याण विभाग को प्रेषित की थी, जिसके आधार पर समाज कल्याण विभाग ने वयोवृद्ध बून्दी को मृत मानकर इनकी वृद्धावस्था पेंशन रोक दी थी।  प्रकरण का संज्ञान लेकर जिलाधिकारी चन्द्र भूषण सिंह ने वयोवृद्ध विधवा महिला बून्दी को पेंशन जल्द बहाल कराने का आश्वासन दिया है।

अस्वीकरण

यह पोस्ट स्वयं प्रकाशित किया गया है. Vews.in लेखक द्वारा व्यक्त किए गए विचारों के लिए न तो समर्थन करता है और न ही जिम्मेदार है.. Profile .


हमसे अन्य सोशल मीडिया साइट पर जुड़े