घर में घटित कुछ चीज़े पहले ही दे देती है भविष्य के संकेत।

किचन में काम करते समय आप में से बहुत-सी महिलाओं के साथ भी ऐसा होता होगा कि जब आप चूल्हे पर दूध रखती हैं और जैसे ही थोड़ा सा ओझल होती है तो दूध उबल कर बाहर आ जाता है।

घर में घटित कुछ चीज़े पहले ही दे देती है भविष्य के संकेत।

कभी कबार ऐसा होना सामान्य है। लेकिन हर बार ऐसा हो तो ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक ऐसी घटनाएं हमें कुछ संकेत देती है ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ऐसा माना जाता है कि घर में हुई कुछ अनचाही चीजें भी हमें किसी न किसी बात का संकेत देती है।

मसलन हाथ से किसी बर्तन का छूटना कांच का टूटना या फिर दूध का उबल कर बर्तन के बाहर आना इन सभी चीजों का अपना एक संकेत होता हैयह चीजें हमें भविष्य में होने वाली घटनाओं के प्रति आगाह करती हैं।

कई बार इन की भविष्यवाणियां इतनी सटीक होती है कि हमारी आंखें भी धोखा खा जाती है इसी बात को ध्यान में रखते हुए आज हम आपको दूध के उबालकर  बर्तन से बाहर गिरने का मतलब बताएंगे।

अक्सर देखा जाता है जब हम गैस पर दूध उबालने के लिए रख देते हैं तो कई बार सही समय पर गैस बंद ना करने के कारण दूध उबल कर गैस के चूल्हे पर गिर जाता है कई बार इसे एक मामूली सी बात मानकर नजरअंदाज कर देते हैं वहीं कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो कंफ्यूज हो जाती है कि दूध के इस तरह का क्या अर्थ निकाला जाए और बहुत से लोग इसे अपशगुन मानते हैं।

आपको बता दें कि हमारे ज्योतिष शास्त्र के अनुसार  दूध का गिरना तभी अपशकुन माना जाता है जब ठंडा दूध किसी गिलास या बर्तन से गिर जाता है जैसे कि आपकी टांग दूध को लग गई हो या आपके हाथ से दूध का बर्तन छूटकर गिर जाए तो यह अपशगुन होता है लेकिन उबलते दूध का बर्तन से बाहर निकलना एक बड़ा शकुन माना जाता है।

ज्योतिषशास्त्र कहता है कि यदि दूध उबल कर बर्तन से बाहर गिर जाए तो समझ जाओ कि आपको कोई अच्छा समाचार मिलने वाला है इस स्थिति में दूध  जलना नहीं चाहिए और उबालकर बर्तन से बाहर निकलना चाहिए। इस बात का भी ध्यान रखें यह शकुन तभी माना जाता है जब हम दूध गर्म करते समय उसकी पूरी केयर करते हैं और अनजाने में यह बर्तन से बाहर आ जाता है जानबूझकर दूध उबाल कर गिराना शकुन की गिनती में नहीं आता है।

ज्योतिष ज्ञान पे आधारित 

Parmod Ahuja

 

follow follow follow follow